Wed Feb 10 16:08:15

प्रत्याशी गौण हुये, सरकार और कांग्रेस आमने-सामने
सतना (मारुति एक्सप्रेस)।
मैहर विधानसभा के उप चुनाव में जीत के लिये मचे घमासान में चुनाव लडऩे वाले प्रत्याशी गौण हो गये हैं। मतदान की शुरू हो चुकी उल्टी गिनती को पूरा होने में चार दिन शेष है और उप चुनाव कांटे की टक्कर के बीच रोमांचक मुकाबले में पहुंच चुका है। मैहर का उप चुनाव अब सरकार और कांग्रेस के नेता लड़ रहे हैं न कि प्रत्याशी। नाक सवाल और प्रतिष्ठा का प्रश्न बना उप चुनाव का जनादेश किधर जाता है यह कहना अभी जल्दबाजी होगी मगर सरकार और कांग्रेस के बड़े नेताओं के ओर से फायर राउण्ड आरंभ हो चुका है।
दो सीएम मैदान में
भाजपा सरकार के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और कांग्रेस के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह मंगलवार को मैहर पहुंचे। चौहान ने तिलौरा से मोर्चा सम्हाला तो दिग्विजय ने झुकेही से कमान संभाली। चौहान ने चार सभायें और दर्जनों गांवों में रथ से रोड शो किया। दिग्गी ने बेरमा, पोड़ी में सभा की और मैहर में पार्टी नेताओं की बैठक ली। चौहान ने तीन दिनों के लिये मैहर में चौपाल लगाई है तो दिग्गी रात में चले गये अब 11 को ज्योतिरादित्य आयेंगे।
पहले के चक्कर में शिकायत
मैहर चुनाव में ईवीएम में पहले नाम के चक्कर में कांग्रेस प्रत्याशी ने आयोग से शिकायत दर्ज कराई कि पहला नाम भाजपा प्रत्याशी को दिया गया है। जबकि शिकायत में कहा गया कि देवनागरी लिपि को प्राथमिकता दी गई और भाजपा को पहले नंबर पर रखा गया जबकि अल्फाबेटीकल के अनुसार होना चाहिये। जिसमें म पहले न बाद में आयेगा। फिलहाल शिकायत निराकरण के अभाव में लंबित है।
सपत्नीक कांग्रेस से बाहर
कांग्रेस ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते कांग्रेस नेता सूर्यप्रकाश चौरसिया, ललिता चौरसिया, प्रकाश मटीजा को बाहर का रास्ता दिखाते हुये 6 वर्ष के लिये निष्कासित किया गया है। अभी दर्जन भर कांग्रेसी और है जो कल भाजपा ज्वाईन कर सकते हैं। इसके बाद इन्हें भी पार्टी से बाहर किया जायेगा।
सपा-बसपा से बड़े नेता दूर
सपा प्रत्याशी रामनिवास के पक्ष में प्रदेश अध्यक्ष, उ.प्र. के एक मंत्री के अलावा अभी तक बड़े नेता ने दस्तक नहीं दी इसी तरह से बसपा में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजाराम के अलावा बसपा का बड़ा नेता मैहर नहीं पहुंचा। उधर गौरी यादव, इधर राजाराम अपने-अपने दलों की कमान सम्हाले हुये हैं।
ग्लैमर का तड़का लगा गई नगमा
मैहर चुनाव में ग्लैमर का तड़का फिल्म अभिनेत्री नगमा लगाकर चली गई। इसके बाद भाजपा, सपा से ग्लैमर की दुनिया का कोई भी नायक-नायिका चुनाव में नहीं पहुंचे। माना जा रहा है कि अंतिम दौर तक 11 फरवरी तक भाजपा और सपा भी ग्लैमर का तड़का लगा सकती है।
विधानसभा उपाध्यक्ष डॉ. राजेन्द्र कुमार
सभा को विधायक सुन्दरलाल तिवारी, जीतू पटवारी पार्टी के जिलाध्यक्ष दिलीप मिश्रा ने भी संबोधित किया। सभा में पूर्व मंत्री सईद अहमद, वरिष्ठ नेता सुधीर सिंह तोमर, अतुल सिंह परिहार समेत अन्य कांग्रेस नेता उपस्थित रहे।
-------

मैहर के परिणाम शिवराज सरकार पर नकेल कसेंगे
सतना (मारुति एक्सप्रेस)।
्रप्रदेश की शिवराज सरकार निरंकुश हो गई है। वह पूंजीपतियों के इशारे पर नाच रही है। आम आदमी किसान, मजदूर गरीब की सुनवाई कहीं नहीं हो रही। मैहर विधानसभा का उप चुनाव इस निरंकुश सरकार पर नकेल कसने का मौका है। मैहर के लोग भाजपा को हटाकर शिवराज और मोदी को संदेश दे कि वह अब इनके भ्रमजाल में नहीं आने वाले।
यह बातें प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को झुकेही में कांग्रेस की चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुये कही।
श्री सिंह ने कहा कि भाजपा की सरकार पूंजीपतियों के इशारे पर काम कर रही है। इस सरकार के राज में सिर्फ पंूजीपति सुखी है। किसान, मजदूर, व्यापारी सब परेशान हैं पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने प्रदेश में इंस्पेक्टर राज का खात्मा कर दिया था। किसी अधिकारी की हिम्मत नहीं थी कि व्यापारी को परेशान कर रहे? अब रोज छापे पड़ रहे। अवैध वसूली चल रही है। उन्होंने कहा कि छोटे व्यापारी परेशान हैं लेकिन बड़े जमाखोरों पर लगाम नहीं। इस साल दहलन का बंफर उत्पादन हुआ इसके बाद भी दाल के भाव में आसमान पर पहुंच गये। किसानों से औने-पौने दाम पर दाल खरीदकर मुनाफाखोरों को लाभ पहुंचाया गया।
दिग्विजय ने गुनाह क्या किया था
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने अपने राज में किसानों को मुफ्त बिजली दी, शिक्षाकर्मी, जनस्वास्थ्य रक्षक, पंचायत कर्मियों की भर्ती शुरू कर गांव के लोगों को गांव में ही रोजगार दिया। भत्ता विकेन्द्रीकरण जनप्रतिनिधियों को अधिकार सम्पन्न बनाया। भाजपा सरकार ने सब छीन लिया। उन्होंने कहा कि उनके राज में पंचायत ही रेत के ठेके देती थी। दो सौ तीन सौ में जो रेत गांव में मिल जाती थी वह अब पांच हजार की हो गई। यह शिवराज सरकार की तरक्की है।
व्यापम में जेल जायेंगे शिवराज
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने गांव के गरीबों को रोजगार दिया। शिवराज के राज्य में व्यापम आ गया। नौकरी के नाम पर लूट मची। उन्होंने कहा कि वह दावा कर कहते हैं कि आज नहीं तो कल शिवराज सिंह और उनका पूरा परिवार व्यापम घोटाले में जेल जाकर रहेगा।
नारायण को हटाओ, शिवराज हिल जायेंगे
पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिस तरह हल में लगा बैल बिना नकेल के लीक में नहीं चल सकता। उसी तरह सरकार भी नकेल के सही दिशा में नहीं चलती। मैहर का यह उप चुनाव शिवराज सरकार पर नकेल कसने का मौका है। आप नारायण त्रिपाठी को हटायेंगे तो अकल शिवराज सिंह की ठिकाने आयेगी।
अर्जुन सिंह के परिवार ने विन्ध्य में पनपने नहीं दिया नेताओं को
चौधरी राकेश सिंह की खरी-खरी
सतना (मारुति एक्सप्रेस)।
विन्ध्य क्षेत्र में नेताओं को स्व. अर्जुन सिंह व उनके परिवार ने न कभी बढऩे दिया न ही पनपने दिया। और यही अब उनके पुत्र अजय सिंह राहुल कर रहे हैं। मैहर विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी के प्रचार में आये भाजपा के वरिष्ठ नेता चौधरी राकेश सिंह ने मारुति एक्सप्रेस से चर्चा के दौरान व्यक्त किये।
उन्होंने मैहर विधानसभा में भाजपा की जीत का दावा करते हुये कहा कि भाजपा भारी अंतर से जीत दर्ज करेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है। यहां का मतदाता विकास के मामले में भाजपा के साथ है। चौधरी राकेश सिंह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुये कहा कि मैहर में कांग्रेस की जो अगुआई कर रहे हैं अजय सिंह ने कभी विन्ध्य में नेताओं को पनपने नहीं दिया। श्री चौधरी ने कहा कि कांग्रेस से जीत दर्ज करने वाले नारायण त्रिपाठी को जब घुटन महसूस हुई तो उन्होंने कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामा। श्री सिंह ने कहा कि भाजपा अपने कार्यकर्ताओं का सम्मान करती है और उन्हें आगे बढऩे का अवसर उपलब्ध कराती है। जबकि कांग्रेस विशेष कर विन्ध्य क्षेत्र में स्व. अर्जुन सिंह और अब अजय सिंह राहुल विन्ध्य में किसी नये नेता को आगे नहीं बढऩे देते, पनपने नहीं दे रहे हैं। चौधरी राकेश सिंह ने कहा कि विन्ध्य का इतिहास इस बात का गवाह है। उन्होंने कहा कि बैरिस्टर गुलशेर अहमद विन्ध्य के शेर के नाम से मशहूर चन्द्रप्रताप तिवारी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्रीनिवास तिवारी, पूर्व विधायक रामप्रताप सिंह आदि तमाम उदाहरण हैं ये लोग अपने बूते पर बढ़े और जनाधार के साथ स्थापित हुये मगर इन्हें रोकने के हरसंभव प्रयास किये गये। चौधरी राकेश सिंह ने कहा कि और भी नेता हैं जो राजनीति में आगे नहीं बढ़ पाये इनके पिछलग्गू बनकर रह गये हैं।
भाजपा नेता श्री सिंह ने कहा कि प्रदेश में 12 वर्षों से काबिज भाजपा सरकार ने विकास के लिये नये कीर्तिमान बनाये हैं। प्रदेश के सभी वर्गों के लिये हर तबके के लिये कल्याणकारी योजनायें बनाई है। उन्होंने कहा कि देवास की तरह मैहर भी जीतेंगे।
--------
पाकिस्तान में मां के पास नहीं, पिता के पास बांग्लादेश जाना चाहता है रमजान
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ रमजान
भोपाल. दो साल पहले सौतेली मां की प्रताडऩा से तंग आकर बांग्लादेश से भारत आया रमजान अब फिर वहीं जाना चाहता है। उसके पिता बांग्लादेश में हैं और मां पाकिस्तान में। पाकिस्तान से गीता को भारत भेजने के दौरान रमजान को पाकिस्तान भेजने की बात कही गई। मां के पास क्यों नहीं गया पाकिस्तान...रमजान की मां से बात की गई, लेकिन उनसे संतोषजनक जवाब नहीं मिलने के कारण पाकिस्तान जाने का मामला उलझ गया। रमजान के आवेदन के आधार पर बाल कल्याण समिति और महिला सशक्तिकरण अधिकारी ने उसे बांग्लादेश भेजने की तैयार शुरू कर दी है। उम्मीद बाल गृह में रह रहे रमजान को फिर बांग्लादेश जाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। पाकिस्तान में मां के पास नहीं पहुंचने पर उसने पिता के पास जाना ही बेहतर समझा। भोपाल में वह दो साल से है और उसकी उम्र 16 वर्ष हो गई है। 18 वर्ष की उम्र तक ही उसे यहां रखा जा सकता है। रमजान के आवेदन पर विचार करते हुए बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी)और महिला सशक्तिकरण अधिकारी ने उसे बांग्लादेश भेजने का प्रस्ताव कलेक्टर निशात वरवड़े के माध्यम से महिला सशक्तिकरण आयुक्त को भेज दिया है। वहीं विदेश मंत्रालय ने भी महिला सशक्तिकरण आयुक्त कल्पना श्रीवास्तव से निर्धारित प्रोफॉर्मा भेजकर जानकारी मांगी है।
पश्चिम बंगाल भेजा जाएगा
रमजान को भोपाल के उम्मीद बाल गृह से जल्द ही पश्चिम बंगाल के साउथ 24 परगना सीडब्ल्यूसी के पास भेज दिया जाएगा। वहां संलाप स्वयं सेवी संस्था दूतावास के माध्यम से बच्चों को बांग्लादेश भेजने का काम करती है। संस्था की सचिव तोपती भूमि ने बताया कि बांग्लादेश से भारत भागकर आने वाले तकरीबन 465 बच्चों को वापस उनके देश भेज चुकी है।
ऐसे पहुंचा था भोपाल
रमजान को उसके पिता मोहम्मद काजल बांग्लादेश लेकर गए थे। वहां पिता ने दूसरी शादी कर ली थी। जहां सौतेली मां से प्रताडऩा मिलने पर रमजान पाकिस्तान जाने के लिए निकल पड़ा था। कराची लौटने की बजाय वह बांग्लादेश से पश्चिम बंगाल और फिर पटना पहुंच गया। इसके बाद वह ट्रेन से कहीं जा रहा था तब भोपाल जीआरपी ने उसे पकड़ा था। इसके बाद उसे चाइल्ड लाइन भेज दिया था।
पाकिस्तान भेजने के लिए यह किया
रमजान की घर वापसी को लेकर कई बार विदेश मंत्रालय से संपर्क किया था। कई बार पत्राचार के बाद मंत्रालय ने इस केस की फाइल बंद कर दी थी। इसी बीच पाकिस्तान के सोशल एक्टिविस्ट अंसार बर्नी से संपर्क किया। उन्होंने कुछ दस्तावेज भी जुटाए। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी कोशिश की थीं। पाकिस्तान दूतावास के अधिकारियों ने भोपाल में रमजान से मुलाकात की उसके बाद उन्होंने चुप्पी साध ली।
कवायद शुरू हो गई है
बाल कल्याण समिति के सदस्य रेखा श्रीधर ने बताया कि रमजान को अब बांग्लादेश भेजने की कवायद शुरू हो गई है। इस संबंध में महिला सशक्तिकरण अधिकारी को प्रस्ताव भेजा है।
यहां नहीं रहना चाहता
जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी रामगोपाल यादव ने कहा कि रमजान अब भारत में नहीं रहना चाहता। इसके लिए रमजान ने आवेदन दिया कि उसे पिता के पास ही भेज दिया जाए। उसके आवेदन पर विचार करते हुए उसे बांग्लादेश भेजने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।
सुसाइड नोट में लिखा संध्या मुझे माफ करना, फिर खा ली नींद की गोलियां
भोपाल। अयोध्या बायपास स्थित बोनीफाई कॉलेज के अकाउंटेंट ने मंगलवार सुबह नींद की गोलियां खाकर अपनी जान देने की कोशिश की है। फिलहाल उसे गंभीर हालत में राजधानी के रेडक्रॉस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं इस मामले में कॉलेज प्रबंधन चुप्पी साधे हुए है। उसके पास से मिले सुसाइड नोट में लिखा है कि संध्या मुझे माफ करना। अब मेरे पास यही रास्ता बचा है। सुसाइड का कारण अकाउंटेंट ने कॉलेज प्रबंधन की प्रताडऩा बताया है।
कॉलेज की प्रिसिंपल पर लगाए प्रताडऩा के आरोप
अस्पताल से मिली जानकारी के मुताबिक 25 वर्षीय नरेन्द्र शर्मा बोनीफाई कॉलेज में अकाउंटेंट है। मंगलवार सुबह उसने दस से ज्यादा नींद की गोलियां खा ली। जब उसे घबराहट हुई, तो उसने इसकी जानकारी अपने दोस्त को दी। दोस्त उसे इलाज के लिए रेडक्रॉस अस्पताल में आईसीयू में भर्ती कराया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।
डिनर के लिए पहुंचे थे 3 डॉक्टर, सुबह फॉर्म हाउस में मिली एक की लाश
दोस्त के फॉर्म हाउस में मिली डॉक्टर शशि कुमार की लाश।
हैदराबाद. यहां के एक फॉर्म हाउस में मंगलवार सुबह एक डॉक्टर की लाश मिली है। बताया जा रहा है कि डॉक्टर शशि कुमार (40) ने पहले अपने साथी डॉक्टर पर पिस्टल से गोली चलाई। इसके बाद खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। जानकारी के मुताबिक, डॉक्टरों के बीच पैसों के लेनदेन को लेकर विवाद था। साथ शुरू किया था हॉस्पिटल फिर हुआ विवाद...
- शशि कुमार, उदय कुमार और साईं कुमार ने कुछ साल पहले 15 करोड़ के इन्वेस्टमेंट से हॉस्पिटल शुरू किया था।
- सोमवार रात शशि ने दोनों पार्टनरों को एक रेस्टोरेंट में डिनर के लिए बुलाया था। जहां उन्हें हॉस्पिटल के फ्यूचर पर बात करनी थी।
- तीनों डॉक्टर कार से रेस्टोरेंट पहुंचे, लेकिन भीड़ की वजह से वे कार में इंतजार करने लगे। इसी दौरान उदय और शशि के बीच कहासुनी हो गई।
- शशि ने उदय पर फायर कर दिया। जख्मी उदय हॉस्पिटल में एडमिट है। 
- शशि मौके से भाग निकला। पुलिस उसे तलाश करती रही, लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। 
- मंगलवार सुबह एक दोस्त के फॉर्म हाउस से शशि की लाश बरामद की गई।
- पुलिस को शशि के पास जहर की बॉटल और सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने अपने पार्टनरों पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं।
- बताया जाता है कि शशि उदय कुमार के सीईओ और साईं कुमार मैनेजिंग डायरेक्टर बनने से अपसेट था।
- इसी बात को लेकर तीनों दोस्तों के बीच विवाद हुआ था।

मच्छरों का कहर- एक घंटा लेट हुई मुंबई से कोच्चि जाने वाली एयर इंडिया की फ्लाइट
सिम्बॉलिक इमेज।
मुंबई. एयर इंडिया के एक पैसेंजर ने आरोप लगाया है कि सोमवार सुबह एयर इंडिया की मुंबई से कोच्चि जाने वाली फ्लाइट मच्छरों की वजह से एक घंटा लेट हो गई। पैसेंजर के आरोपों पर एयर इंडिया ने ये तो माना कि फ्लाइट लेट हुई लेकिन प्लेन खाली कराने के आरोपों को कंपनी ने खारिज कर दिया। पैसेंजर्स ने नहीं की थी शिकायत....
- एक फार्मास्युटिकल कंपनी में एग्जीक्युटिव रामा अय्यर ने टीएनएम वेबसाइट को यह जानकारी दी है।
- रामा का आरोप है कि वे कोच्चि जाने के लिए सोमवार सुबह 5.30 बजे एयरपोर्ट पहुंचे। उन्हें एयर इंडिया की फ्लाइट नंबर एआई-054 में बोर्ड करना था।
- रामा के मुताबिक, सभी पैसेंजर्स बोर्ड कर चुके थे। एयरक्राफ्ट में काफी मच्छर थे लेकिन पैसेंजर्स ने इसकी शिकायत नहीं की।
- फ्लाइट कैप्टन ने पैसेंजर्स से अपने हैंडबैग लेकर प्लेन खाली करने को कहा ताकि वहां स्प्रे के जरिए मच्छर भगाए जा सकें।
फिर भी नहीं भगाए जा सके मच्छर
- पैसेंजर के मुताबिक, स्प्रे के जरिए मच्छरों को भगाने की कोशिश भी नाकामयाब साबित हुई। क्योंकि प्लेन के अंदर फिर भी काफी मच्छर मौजूद थे।
- उन्होंने बताया कि मुंबई एयरपोर्ट के करीब ही 'मीठी नदी बहती है। इस वजह से वहां काफी मच्छर रहते हैं।
- रामा के मुताबिक, 5.30 बजे वाली फ्लाइट ने 7.10 पर टेक ऑफ किया और वे 8.50 पर कोच्चि पहुंच पाए।
गवाही देते देते गुस्से में आ गया डेविड हेडली
मुंबई। मुंबई की एक अदालत के सामने मंगलवार को लगातार दूसरे दिन गवाही देते हुए पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी आतंकवादी डेविड कोलमैन हेडली ने कहा कि लश्कर-ए-तैयबा ने ताज होटल में भारतीय रक्षा वैज्ञानिकों पर हमला बोलने की योजना बनाई थी। हेडली ने यह भी कहा कि पाकिस्तान की आईएसआई ने उसे कहा था कि वह उनके लिए जासूसी करने के लिए भारतीय सैन्यकर्मियों को नियुक्त करे। आज हेडली काफी गुस्से मे लग रहा था। सवालों का जवाब देते वक्त उसे कई बार सवाल समझ नहीं आया। हेडली ने कहा कि भारत में आतंकी हमलों के लिए मुख्य रूप से लश्कर-ए-तैयबा जिम्मेदार है और यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि सभी आदेश इसके शीर्ष कमांडर जकी-उर-रहमान लखवी की ओर से आए। खुलासे जारी रखते हुए हेडली ने कहा, 'मैं वर्ष 2006 की शुरुआत में आईएसआई के मेजर इकबाल से लाहौर में मिला था। उन्होंने मुझे भारत की खुफिया सैन्य जानकारी एकत्र करने के लिए कहा था। उन्होंने मुझे जासूसी के लिए भारतीय सेना से भी किसी को नियुक्त करने के लिए कहा था। मैंने मेजर इकबाल से कहा था, मैं उनके कहे मुताबिक काम करूंगा। गवाही देते देते गुस्से में आ गया डेविड हेडली हेडली ने यह भी कहा कि पाकिस्तान की आईएसआई ने उसे कहा था कि वह उनके लिए जासूसी करने के लिए भारतीय सैन्यकर्मियों को नियुक्त करे...
हेडली ने अदालत को बताया, 'मैं इस अदालत को यह नहीं बता सकता कि लश्कर-ए-तैयबा के किस व्यक्ति विशेष ने भारत में आतंकी कृत्यों को अंजाम देने के निर्देश दिए। पूरा समूह ही जिम्मेदार था। हालांकि हम यह कयास लगा सकते हैं कि चूंकि लश्कर के अभियानों का प्रमुख जकी-उर-रहमान था, ऐसे में तार्किक तौर पर सभी आदेश उसी की ओर से आए होंगे।
हेडली ने यह भी कहा, 'वर्ष 2007 के नवंबर और दिसंबर में लश्कर-ए-तैयबा ने मुजफ्फराबाद में एक बैठक की थी, जिसमें (संगठन में हेडली के आका) साजिद मीर और किसी अबु काहसा ने शिरकत की था। इस बैठक में यह तय हुआ था कि आतंकी हमले मुंबई पर बोले जाएंगे। हेडली ने कहा, 'मुंबई के ताज होटल की रेकी का काम मुझे सौंपा गया था। उनके (साजिद और कहासा) पास जानकारी थी कि ताज होटल के सम्मेलन कक्ष में भारतीय रक्षा वैज्ञानिकों की बैठक होने वाली है। वे लोग उसी समय हमले की योजना बनाना चाहते थे। उसने कहा, 'उन लोगों ने ताज होटल का एक प्रतिरूप (डमी) भी बनाया था। हालांकि वैज्ञानिकों की बैठक रद्द हो गई थी।
हेडली ने कहा कि नवंबर 2007 से पहले, यह तय नहीं था कि भारत में आतंकी कृत्यों को किस स्थान पर अंजाम दिया जाएगा। इस मामले में सरकारी गवाह बन चुके 55 वर्षीय हेडली ने आगे कहा कि उसने 'लश्कर के नेताओं हाफिज साहब और जकी-उर-रहमान 'साहब के साथ इस बात पर चर्चा की थी कि लश्कर-ए-तैयबा को विदेशी आतंकवादी संगठन घोषित करने और इसे प्रतिबंधित करने के अमेरिकी सरकार के फैसले को अदालत में चुनौती देना अच्छा रहेगा।
किसी अज्ञात स्थान से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए गवाही दे रहे हेडली ने कहा, 'हाफिज ने कहा कि यह अच्छा ख्याल है लेकिन उन्होंने इस पर इससे ज्यादा कुछ नहीं कहा। जकी को लगा कि यह एक लंबी प्रक्रिया होगी और पाकिस्तानी सरकार की आईएसआई जैसी कई एजेंसियों को इसमें शामिल होना पड़ेगा। मुंबई हमलों में अपनी भूमिका के चलते अमेरिका में 35 साल कारावास की सजा काट रहे हेडली ने यह भी कहा कि उसकी पत्नी ने लश्कर-ए-तैयबा के साथ उसके संबंधों की शिकायत पुलिस में कर दी थी।
हेडली ने कहा, 'दिसंबर 2007 में, मेरी पत्नी फैजा ने लाहौर की रेसकोर्स पुलिस के पास यह शिकायत दर्ज कराई थी कि मैंने उससे धन ठगा है। हेडली ने कहा, 'जनवरी 2008 में, उसने इस्लामाबाद स्थित अमेरिकी दूतावास में शिकायत दर्ज कराई कि मैं आतंकी गतिविधियों में लिप्त हूं और लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा हुआ हूं। उसने कहा, 'बाद में जब मैंने उससे इस शिकायत के बारे में पूछा तो उसने मुझे बताया कि 'ऐसा लगता है कि अमेरिकी अधिकारियों को उस पर यकीन हो गया है।
हेडली ने सोमवार को अपनी पहली गवाही में अदालत को बताया था कि पाकिस्तानी आतंकियों ने मुंबई में 26/11 के हमलों से पहले दो बार हमले करने की कोशिश की थी लेकिन दोनों बार प्रयास विफल रहे। 26/11 के हमलों में 166 लोग मारे गए थे। खुद को 'लश्कर-ए-तैयबा का कट्टर समर्थक बताते हुए हेडली ने विशेष सरकारी वकील उज्ज्वल निकम द्वारा की जा रही जिरह में यह भी माना कि वह आतंकी संगठन के संस्थापक हाफिज सईद के भाषणों से 'प्रभावित और प्रेरित होकर लश्कर से जुड़ा था। 
--------
                 Image..                         Open a new window
Top News
 
किराए से हेलमेट लेकर भरवा रहे पेट्रोल
 
पुलिस कार्रवाई का विरोध, ऑटो चालकों ने की हड़ताल, यात्री परेशान
 
सुप्रीम कोर्ट के फैसले को आधार मानकर 160 किसानों की जमीन वापसी की मांग
 
संभाग से ख़बरें
Bhopal
117.204.195.217A34183bhopal.jpg
भोपाल। भोपाल को-ऑपरेटिव सेंट्रल बैंक के पूर्व अध्यक्ष व जिला सहकार
Satna
117.204.195.217A75771satna.jpg
सतना। पेट्रोल लेना है तो पास वाली दुकान में जाकर हेलमेट किराये से ल
Rewa
117.204.195.217A56618rewa.jpg
रीवा। ऑटो चालक यूनियन की हड़ताल के चलते शहर सहित गांव से आने वाले ऑट
 
Jabalpur
117.204.195.217A62001jabalpur.jpg
जबलपुर। 29 जनवरी को हुए उद्घाटन के बाद से सूना पड़ा अन्र्तराज्यीय बस &#
Indore
117.204.195.217A22897indor.jpg
इंदौर। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय कुलपति चयन के लिए बनाई गई कमेटी
Sagar
117.204.195.217A88234sagar.jpg
सागर। जिले के सानौदा थाना क्षेत्र स्थित ग्राम रघोली में आज सुबह एक 
खेल मनोरंजन फिल्म
टी-20 विश्व कप में पाक के भाग लेने पर आईसीसी बैठक में चर्चा
वैलेनटाइन डे: संडे ने लगाया प्यार पर पहरा, ये बहाने बनाएंगे प्रेमी जोड़े
फिल्म सुल्तान में इस लुक में दिखेंगे सलमान खान
Photo Albums
NO Photo available in this Album!!
 
विज्ञापन
Market Watch
Hot Pictures of the Day
 
 Yes
 No
 Cannot say
 
News paper PDF