Fri Oct 24 2:04:23

सफेद बाघों की कहानी कहेगा मुकुंदपुर - शुक्ल
भोपाल, (मारुति एक्सप्रेस)।
विश्व की प्रथम व्हाइट टाइगर सफ ारी का निर्माण पूरा होने को है। सतना जिले के मुकुंदपुर में स्थापित होने वाला जूलाजिकल पार्क पर्यटकों को सफेद बाघों की दुनिया से परिचित करवाएगा। यहां पर्यटकों को विश्व के पहले सफेद बाघ मोहन के वंशज दिखाई देंगे। पर्यटकों को सफेद शेर के इतिहास की संपूर्ण जानकारी भी दी जाएगी।जनसंपर्क एवं खनिज मंत्री राजेंद्र शुक्ल ने मुकुंदपुर टाइगर सफारी के भ्रमण के बाद कहा कि विंध्य में एक बार पुन: सफेद बाघों को अपने मूल पर्यावास में वापस लाकर पुरानी वैश्विक पहचान स्थापित करवाई जाएगी। शुक्ल ने बताया कि लगभग 40 वर्ष के बिछोह के बाद मुकुंदपुर वन्य जीव पर्यटन केन्द्र के तौर पर विकसित हो रहा है। यहां जूलाजिकल पार्कए रेस्क्यू सेंटर, व्हाइट टाइगर सफारी एवं ब्रीडिंग सेंटर बनाए गए हैं। यह क्षेत्र सफेद बाघों के संरक्षण और प्रजनन केन्द्र के तौर पर जाना जाता रहा है। अब फि र से यह गौरव प्राप्त होगा। मुकुंदपुर टाइगर सफ ारी के भ्रमण अवसर पर उपस्थित ग्रामवासियों ने विन्ध्य के गौरव सफेद बाघ को वापस लाने के लिये मंत्री शुक्ल को साधुवाद दिया। 1951 में आया था पहला सफेद बाघ- जूलाजिकल पार्क का नाम मुकुंदपुर जू होगा तथा मोहन टाइगर सफारी के नाम से जाना जाएगा। यहां स्थापित होने वाला ब्रीडिंग सेंटर महाराजा मार्तण्ड सिंह के नाम से होगा। उल्लेखनीय है कि विश्व का पहला सफेद बाघ मोहन सन 1951 में रीवा के तत्कालीन शासक महाराजा मार्तंड सिंह द्वारा सीधी जिले के जंगल से पकड़ा गया था जिसे लाकर गोविंदगढ़ में रखा गया। धीरे-धीरे मोहन के वंशज विश्व भर के जंगलों, चिडिय़ाघरों में पहुंच गए मगर रीवा एवं विन्ध्य में उनकी पहचान सिर्फ स्मृतियों के रूप में रह गर्इं।
कांग्रेस विधायक दल की बैठक 28 को
भोपाल, (मारुति एक्सप्रेस)।
कांग्रेस विधायक दल की बैठक 28 अक्टूबर को भोपाल में बुलाई गई है। नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे की अगुवाई में यह बैठक होगी। फिलहाल विधानसभा का सत्र नहीं है, मगर लीक से हटकर कटारे बैठक कर रहे हैं। बैठक में दिसंबर में संभावित शीतकालीन सत्र और सरकार की घेराबंदी को लेकर रणनीति बनाई जाएगी। नेता प्रतिपक्ष कटारे ने कहा कि पिछले सत्रों में प्रतिपक्ष कांग्रेस और उसके सदस्यों ने सरकार की घेराबंदी में कोई कोर.कसर नहीं छोड़ी है। कांग्रेस विधायकों की घेराबंदी से सरकार हिली हुई है। आलम यह रहा है कि हमलों से खीझकर सत्तारुढ़ दल ने लीडर ऑफ अपोजीशन को विशेषाधिकार हनन सरीखे के निम्नस्तरीय रास्तों को चुनना पड़ा है। मगर कांग्रेस विधायक इससे घबराए नहीं है, आने वाले सत्र में इस बात को विधायक साबित करेंगे, कटारे ने कहा।
नगरीय निकाय चुनाव की भी बनेगी रणनीति
बैठक में विधायक नगरीय निकाय चुनाव को लेकर भी रणनीति बनाएंगे। हर विधायक को उनके क्षेत्र और आसपास के क्षेत्रों में होने वाले चुनाव में पार्टी की जीताने की जिम्मेदारी दी जाएगी। वहीं स्थानीय स्तर पर भी गुटबाजी समाप्त करने की जिम्मेदारी विधायकों को अलग से सौंपी जाएगी। विधायकों से उनके जिले में किसी तरह से चुनाव लड़ा जाना चाहिए है, उस क्षेत्र में प्रमुख मुद्दों के संबंध में भी सुझाव लिए जाएंगे। इसके अलावा पार्टी संगठन को हर विधानसभा क्षेत्र में मजबूत करने के सुझाव भी इस बैठक में लिए जा सकते हैं।
शेडो मिनिस्टर के कामकाज का आकलन
नेता प्रतिपक्ष के अनुसार शेडो कैबिनेट की बैठक में शेडो मिनिस्टर के कामकाज की समीक्षा की जाएगी। छाया मंत्रियों को जिन महकमों की जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं अब तक उन पर वे कितना खरा साबित हुए हैं, इस बात के आंकलन के बाद आगे की रणनीति बनाएंगे। कटारे ने कहा कि यदि जरूरत पड़ी तो कुछ शेडो मिनिस्टरों के विभागों में बदलाव भी करेंगे।
दिवाली बाद बनेगी कांग्रेस की चुनावी रणनीति,अरुण लेंगे बैठक
भोपाल, (मारुति एक्सप्रेस)।
नगरीय निकाय चुनावों में टिकट वितरण और अन्य रणनीति को अंतिम रूप देने के लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव सूबे के बड़े नेताओं के साथ बैठक करने की तैयारी में हैं। यादव फिलहाल खरगोन में हैं। वे दिवाली खरगोन में ही मनाएंगे। दिवाली बाद प्रदेश के नेताओं के साथ भोपाल में वे बैठक करेंगे और इसके बाद दिल्ली में बड़े नेताओं के साथ बैठक की उनकी योजना है।
जीतने वालों को टिकट- टिकट को लेकर फार्मूला अभी फायनल होना है। मोटे तौर पर अरुण यादव ऐसे प्रत्याशी को तरजीह देने वाले हैं जिसकी जीत के आसार सबसे प्रबल होंगे। चूंकि गुटबाजी और टिकटों की बंदरबांट का आरोप आम है, लिहाजा इस बार इससे बचने के प्रयास भी हो रहे हैं। टिकट जल्दी क्लीयर हो जाएं, यह प्रयास भी प्रदेश कांग्रेस कमेटी करने वाली है।
नगरीय निकाय चुनावों के लिए पार्टी पहले से ही कमर कस चुकी है। तैयारियां चल रही हैं। कई स्तरों पर तैयारियां कर रहे हैं। पर्यवेक्षक तैनात कर दिए गए हैं। दिवाली के बाद एक बड़ी बैठक करने वाले हैं। इस बैठक में काफी हद तक रणनीति बना लेंगे।
अरुण यादव, अध्यक्ष, मप्र कांग्रेस कमेटी
ताई के पहले निगम ने लगा दी झाड़ू
इंदौर रू लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किए गए देश व्यापी स्वच्छता अभियान को एक गति देने के लिए मंगलवार को कई मंदिरों पर झाड़ू लगाकर स्वच्छता अभियान की शुरुआत की। उनके साथ महापौर कृष्णमुरारी मोघे एविधायक उषा ठाकुर तथा अंजू माखीजा सहित कई नेत्रियां मौजूद थी। इस दौरान यह देखा गया कि ताई जिन. जिन स्थानों पर झाड़ू लगाई उन सभी जगहों पर निगम पहले ही झाड़ू लगा दिए थे। इस तरह से देखा जाए तो इस  अभियान में  पूरी तरह से औपचारिकता दिखाई गई। क्योंकि जिन स्थानों पर झाड़ू लगाया गया वहां पर कचरा था ही नहीं। मात्र सभी के हाथ में झाड़ू भर था। ज्ञातब्य हो कि मंगलवार के  सुबह नौ बजे अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन राजवाड़ा स्थित महालक्ष्मी मंदिर पहुंची। यहां पर पहले से ही दर्जनों की तादात में समर्थक मौजूद थे। मंदिर के दर्शन करने के बाद ताई हाथ में झाड़ू लिए मंदिर से लेकर स्टैट बैंक के सामने तक झाड़ू लगाई। इस दौरान ताई के साथ फोटों खिंचवाने की होड़ मची हुई थी। कार्यकर्ता आगे . पीछे हो रहे थे। इसके  बाद ताई अपने . अपने विधानसभा क्षेत्र में झाड़ू लगा रहे विधायकों के  अभियान में पहुंची। क्योंकि  ताई के इस अभियान को पूरे शहर में चलाने के लिए अपने. अपने क्षेत्र में झाड़ू लगाने के लिए कहा गया था। जहां सुदर्शन गुप्ता ने बड़ा गणपतिए रमेश मेंदोला ने गंदेश्वर महादेव मंदिरए उषा ठाकुर ने हरसिद्धि मंदिरए मालिनी गौड़ ने रणजीत हनुमान मंदिर और आईडीए अध्यक्ष शंकरलालवानी ने अन्नपूर्णा मंदिर पर स्वच्छता अभियान में झाड़ू लगाई।
सफाई अभियान में विवाद
धार्मिक स्थलों पर चलाए जा रहे सफाई अभियान को मंगलवार को उस समय कुछ भाजपाईयों में विवाद हो गया। जब कुछ भाजपाई फोटों खिंचवा रहे थे। यह विवाद फोटों खिंचवाने के  लिए हुआ था। इस दौरान एक कार्यकर्ता पर हमला भी हुआ जिससे वह घायल हो गया। दरअसल क्षेत्र क्रमांक चार के अंर्तगत रणजीत हनुमान मंदिर परिसर में पार्षद सुधीर देडग़े ने सफाई अभियान का कार्यक्रम रखा था। वहीं राऊ विधानसभा क्षेत्र के अंर्तगत गोपुर चौराहे पर कार्यक्रम था। यहीं पर महेश बाजपेयी नामक कार्यकर्ता ने फोटों खिंचवाने को लेकर विवाद किया।
जबलपुर क्षेत्र में भूकंप के झटकेए घरों से बाहर निकले लोग
जबलपुर। दिवाली के एक दिन पहले  जबलपुरए शहडोल और उमरिया के कुछ क्षेत्रों में को भूंकप ने हिला दिया। बुधवार सुबह  करीब पौने ग्यारह भूकंप के झटकों ने लोगों को दहशत में डाल दिया। इस वजह से अधिकांश लोग घरों से बाहर निकल आए। भूकंप के झटके करीब पांच सेकेंड तक जबलपुर के साथ आसपास के क्षेत्रों में भी महसूस किए गए। हालांकि रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 2ण्8 मैग्नीट्यूट बताई गई है। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार इस दौरान किसी तरह की जनधन के नुकसान की जानकारी नहीं मिली है। जबलपुर के आधारतालए नेपियर.राइट टाउनए गोरखपुरए शहपुराए मझोली इलाके में भी झटके महसूस किए और कुछ मकानों में दरारें आ गर्इं। निकटवर्ती बरगी हिल्स स्थित वेधशाला के एक प्रभारी वैज्ञानिक ने बताया कि कम तीव्रता के झटके महसूस किए गए और इसका केंद्र जबलपुर से 150 किलोमीटर दूर था। बरगी बांधए सुरक्षा संस्थानों सहित संवेदनशील क्षेत्रों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। कलेक्टर ने आपदा प्रबंधन टीम को अलर्ट करते हुए लोगों से सावधानी बरतने का आग्रह किया है। शहडोल से मिली जानकारी के अनुसार भूकंप के झटके सुबह 8रू01 बजे बीस से तीस सेकेंड तक महसूस किए गए। इससे शहडोल एवं अनूपपुर क्षेत्र के लोगों से दहशत व्याप्त हो गई तथा वे अपने घरों से बाहर निकल आए। सूत्रों के मुताबिक भूकंप की जानकारी लगते ही भोपाल से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने वरिष्ठ अधिकारियों से इसकी जानकारी ली है। याद आया 1997रू जबलपुर भूंकप की दृष्टि से संवेदनशील जोन में है। 22 मई 1997 को आए भूकंप में जिले में 40 मौत हुई थीं। रिक्टर पैमाने पर इसे 6ण्01 मैग्नीट्यूट तीव्रता मापा गया था। इसके बाद कई बार हल्के फुल्के झटके आ चुके हैं। भू.वैज्ञानिकों द्वारा जबलपुर को नर्मदा.सोन फाल्ट में अक्सर होने वाली हलचल वाले क्षेत्र के रूप में मान्यता देकर इसे भूकंप संवेदी क्षेत्र का दर्जा दिया है।
आगरा के होटल में मिले ब्रिटिश दंपति के शव
नागपुर द्य मुख्यमंत्री पद के लिए भाजपा की तरफ से राज्य पार्टी प्रमुख देवेंद्र फडऩवीस के पसंदीदा उम्मीदवार होने की चर्चा के बीच नागपुर पूर्व से विधायक कृष्णा खोपड़े ने आज नितिन गडकरी के लिए अपनी सीट छोडऩे की पेशकश की। उन्होंने यह पेशकश ऐसे समय में की है जब केंद्रीय मंत्री को राज्य की बागडोर सौंपने की मांग तेज हो गयी है। दूसरी बार विधायक बने खोपड़े ने कहा कि गडकरी के लिए वह अपने निर्वाचन क्षेत्र से इस्तीफा देने को इच्छुक हैं।घटनाओं के बारे में विवरण के लिए जब फडऩवीस से संपर्क किया गया तो उन्होंने खामोशी अख्तियार कर ली और कोई बयान नहीं दिया। गडकरी ने कल रात कहा था कि पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व की ओर से सौंपी जाने वाली किसी भी जिम्मेदारी को स्वीकारने के लिए वह तैयार हैं। विदर्भ क्षेत्र के भाजपा के करीब 39 विधायकों ने कल गडकरी से उनके आवास पर मुलाकात की। विधायकों ने उन्हें राज्य का मुख्यमंत्री बनाने की मांग की है। वरिष्ठ भाजपा नेता ने बाद में इलेक्ट्रानिक मीडिया से कहा कि जिन विधायकों ने उनसे मुलाकात की ष्मेरे मन में उनके लिए बहुत सम्मान है और वे मुझसे मुख्यमंत्री बनने के लिए अनुरोध कर रहे हैं।ष्
मोदी की कश्मीर यात्रा से पहले पाक ने फिर की ना पाक हरकत
जम्मू। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दीवाली के मौके पर जम्मू.कश्मीर यात्रा से पूर्व पाकिस्तान ने एक बार फिर से संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए यहां अंतरराष्ट्रीय सीमा पर फायरिंग की। बीएसएफ ने भी पाकिस्तानी फायरिंग का जबरदस्त जवाब दिया। एक पुलिस अधिकारी के अनुसार पाकिस्तानी बलों ने सांबा जिले के रामगढ़ क्षेत्र में सीमा सुरक्षा बल ख्बीएसएफ, की चौकियों पर अकारण फायरिंग शुरू कर दी। पाकिस्तान द्वारा सुबह 9 बजकर 40 मिनट पर शुरू की गई फायरिंग में ऑटोमैटिक और छोटे हथियारों का प्रयोग किया गया। जिसका बीएसएफ द्वारा जबरदस्त जवाब दिया गया। रामगढ़ क्षेत्र में पाकिस्तान की तरफ से फायरिंग अब बंद हो चुकी है। परंतु जम्मू जिले के आरएस पुरा के सब.सेक्टर अरनिया में पाकिस्तान बलों ने सुबह 10 बजकर 10 मिनट पर फायरिंग की। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 अक्टूबर को राज्य के बाढ़ प्रभावितों के बीच दीवाली मनाएंगे।
देवेंद्र फणनवीस का महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनना तय - सूत्र
मुंबई। महाराष्ट्र भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र फणनवीस का मुख्यमंत्री बनना लगभग तय हो गया है। इसके पहले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर विनोद तावड़ेए एक नाथ खडसेए पंकजा मुंडे और नितिन गडकरी का नाम लिया जा रहा था। लेकिन सूत्रों के हवाले से यह पता चला है कि आरएसएस और मोदी के करीबी बेदाग छवि वाले 44 वर्षीय देवेंद्र फणनवीस का नाम तय हो गया है। केवल औपचारिक एलान होना बाकी है। गौरतलब है कि पहले से ही देवेंद्र फडऩवीस का नाम मुख्यमंत्री पद की दौड़ में सबसे आगे चल रहा था। खुद गडकरी भी मीडिया से यह कह रहे थे कि वह दिल्ली में काम करके खुश हैं और उनका महाराष्ट्र जाने का कोई इरादा नहीं है। लेकिन महाराष्ट्र भाजपा के पूर्व अध्यक्ष सुधीर मुंगटीवार के बयान के बाद गडकरी का नाम दोबारा चर्चा में आ गया। मुंगटीवार ने भी मुख्यमंत्री पद के लिए गडकरी का समर्थन किया था। लेकिन विदर्भ के 44 भाजपा विधायकों में से 39 ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मुख्यमंत्री बनने की अपील की। ये विधायक मंगलवार को गडकरी के घर नागपुर पहुंच गए और नारेबाजी करते हुए उनसे प्रदेश का मुख्यमंत्री पद स्वीकार करने की मांग की। लेकिन सूत्रों की मानें तो भाजपा आलाकमान गडकरी के शक्तिप्रदर्शन को श्भावश् नहीं देने वाली है। पार्टी फणनवीस को महाराष्ट्र की कमान देने का फैसला कर चुकी है। आपको बता देंए महाराष्ट्र में भाजपा और उसके सहयोगियों को कुल 123 सीटें मिली हैं। पूर्ण बहुमत के लिए 25 और सीटों की जरूरत है। इसके लिए एनसीपी ;41 सीटद्ध पहले ही बिना शर्त समर्थन देने के लिए तैयार है। लेकिन भाजपा की पूर्व सहयोगी शिवसेना भी अब नतमस्तक होती दिख रही है। शिवसेना अब भाजपा के सामने घुटने टेक सकती है।
                 Image..                         Open a new window
Top News
 
मोदी की कश्मीर यात्रा से पहले पाक ने फिर की ना पाक हरकत
 
सबके सामने रो पड़ीं दीपिका पादुकोण
 
मुख्यमंत्री का सतना दौरा 27 अक्टूबर को प्रस्तावित
 
संभाग से ख़बरें
Bhopal
117.204.199.169A96527jelo.jpgभोपाल, (मारुति एक्सप्रेस)।
नगरीय निकाय चुनावों में अपने प्यादों को टिकट दिलवाने के लिये एड़ी-चोटी एक कर देने वाले सांसद और विधायकों को इस बार सिफारिश न क
Satna
117.204.199.169A2994720060602002611402.jpgसतना. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का सतना जिले का भ्रमण कार्यक्रम 27 अक्टूबर को प्रस्तावित है। कलेक्टर मोहनलाल ने सभी संबंधित अधिकारियो को म
Rewa
117.204.199.169A56991reewa 21-201-3 bgb. jpg.jpgरीवा . प्रदेश के ऊर्जा एवं जनसम्पर्क मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने आज प्रात: आठ बजे एसण्एण्एफण् ग्राउण्ड पहुंचकर शहीद पुलिस कर्मियों को श्रद्धांजलि दी। उन
 
Jabalpur
117.204.199.169A37918jabalpur21102014b1.jpgजबलपुर.  कलेक्टर शिवनारायण रूपला ने आज जिले के राजस्व अधिकारियों की बैठक लेकर विभिन्न राजस्व संबंधी कार्यों की समीक्षा की।  उन्होंने राजस्व अधिकार
Indore
117.204.199.169A8204mahapor.jpgइंदौर रू साल के  अंत में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव के लिए राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदेश की कौन सी सीट आरक्षित है और कौन सी अनारक्षितए की घोषणा हो ज
Sagar
117.204.199.169A18497Page 1 copy.jpgसागर . सागर मकरोनिया जो कि किण्मीण् 1056ध्1.2 न्च्.क्छ सागरए सागर .मकरोनिया सेक्शन में स्थित है। रेल्वे गेट क्रमांक 30 में रिन्यूवल कार्य के चलते उक्त गेट 24ए25ए26
खेल मनोरंजन फिल्म
विरोध जताने वाली मुक्केबाज सरिता को एआईबीए ने किया निलंबित
इन गानों के बिना अधूरी है दीपावली
सबके सामने रो पड़ीं दीपिका पादुकोण
Photo Albums
NO Photo available in this Album!!
 
विज्ञापन
Market Watch
Hot Pictures of the Day
 
 Yes
 No
 Cannot say
 
News paper PDF